आसमान नीला क्यों दिखता है? - why sky is blue in hindi

Why sky is blue
आसमान नीला क्यों है?(why sky is blue) दोस्तों अगर आपको साइंस में इंटरेस्ट है। तो आपके दिमाग में यह सवाल जरूर आया होगा कि, आसमान नीला क्यों है किसी और रंग का क्यों नहीं। या फिर ब्रह्मांड में अंधकार है तो फिर हमें आसमान नीला क्यों दिखाई देता है। जबकि उससे तो रंगहीन दिखाई देना चाहिए। दोस्तों कमेंट करके जरूर बताना आप में से कितनों के दिमाग में यह सवाल आया था। क्योंकि दोस्तों यही सवाल आगे जाकर जवाब ढूंढने की जिज्ञासा जगाते हैं। और यही सवाल ही आपको आगे जाकर सफल बनाते हैं। जैसे कि Sir Isaac Newton. उस वक्त अगर न्यूटन को फल को देखकर सवाल ना हुआ होता तो हम शायद आज न्यूटन को नहीं जानते होते। खैर इस बारे में बात हम किसी और आर्टिकल में करेंगे। फिलहाल देखते हैं कि, आसमान नीला क्यों है किसी और रंग का क्यों नहीं?
 
तो ये जाने से पहले हम ये जान लेते हैं कि, हम कलर को कैसे देख पाते हैं। अर्थात जब प्रकाश का पुंज किसी पदार्थ पर पड़ता है‌, तब प्रकाश पुंंज परावर्तित (Reflected) हो सकता है, प्रकाश पुंंज का अवशोषण (Absorption) हो सकता है। या वह प्रकाश पुंज पदार्थ में से आर-पार निकल सकता है। पर आमतौर पर जो प्रकाश दिखता है। वो इन तीनों के अलग-अलग मिश्रण वाला होता है। अर्थात, कुछ प्रकाश परावर्तित होता है, कुछ अवशोषित होता है, ओर कुछ आर-पार निकल जाता है। 

Reflected and absorption
आपको ये तो पता ही होगा कि सामान्य सूर्य के प्रकाश का एक छोटा-सा हिस्सा ही हम देख पाते है। जबकि प्रकाश का एक बड़ासा हिस्सा हमारी दृश्य क्षमता से बाहर है। पर खेर फिलहाल हम दिखाई देने वाले प्रकाश की बात कर रहे हैं। यह दृश्य प्रकाश स्वयं भी कई रंगों से मिलकर बना होता है। मोटे - मोटे तौर बताए तो, सूर्य के प्रकाश में सात रंग होते हैं। वायलेट, इंडिगो, ब्लू, ग्रीन, ऑरेंज, येलो और रेड। जिसे हम VIBGYOR कहते हैं।

Light spectrum
 
तो आमतौर पर किसी भी वस्तु का रंग इस बात से तय होता है कि वह स्पेक्ट्रम में उपस्थित रंगों में से किसको कितना परावर्तित करता है। अवशोषित करता है, या फिर आरपार निकाल देता है। तो यदि कोई वस्तु सारे रंगों को सोख ले तो वह काली नज़र आती है। इसके विपरीत यदि कोई वस्तु सारे रंगों को रिफ्लेक्ट कर दे तो वह सफेद नज़र आती है। और यदि वह सारे रंगों को आर पार जाने दे तो वह पारदर्शी अर्थात रंगहीन दिखेगी। यदि वह कुछ रंगों को अवशोषित कर ले और कुछ को परावर्तित करे तो वह उस रंग की नज़र आएगी जिसे उसने परावर्तित किया है। और यदि वह कुछ रंगों को अवशोषित कर ले और कुछ को पार जाने दे तो वह पारदर्शी और उस रंग की नज़र आएगी जिसे उसने पार जाने दिया है।

कोई पदार्थ किन रंगों को सोख लेगा, यह उसकी रासायनिक रचना पर निर्भर होता है। तो आपके दिमाग में यह सवाल जरूर आएगा कि आसमान में तो कोई पदार्थ या वस्तु नहीं है, तो फिर यह प्रकाश कैसे रिफ्लेक्ट होता है। या फिर कैसे हमें आसमान नीला दिखाई देता है।

तो दोस्तों बता दें कि हमें आसमान यहां से नीला दिखाई देता है ऊपर से नहीं। ऊपर जाकर हमें आसमान रंगहीन ही दिखाई देगा।

Sky real colour
 
क्योंकि पृथ्वी का वायुमंडल अनेक प्रकार के गैसों के मिश्रण से बना है। न सिर्फ गैस बल्कि अनेक प्रकार के धूल कण, पराग कण और कई महिम पदार्थ भी मौजूद होते हैं। वहीं गैस की प्रकृति के बारे में बात की जाए तो वो भी कई तरह के अणुओं से मिलकर बनती है, यह अणु अत्यंत सूक्ष्म कण होते हैं।

जब सूर्य का प्रकाश पृथ्वी के वायुमंडल में प्रवेश करता है तो वायुमंडल में वो इन कणों से टकराता है। लम्बे वेवलेंथ (wavelength) वाली लाइट आगे की ओर बड़ जाती है। पर जिस लाइट की wavelength छोटी वो ज्यादा स्कैटर करता है। ये तभी होता है जब हवा में मौजूद कण प्रकाश के wavelenght से छोटे होते हैं। नीले रगं की wavelength सबसे कम होती है। (नीले रंग की वेवलेंथ 450-495 nm होती हैं।) इसी कारणवश नीला प्रकाश वायुमंडल में उपस्थित गैस अणुओं, पराग कणों, धूल आदि से टकराकर कर छितरा जाता है। इसी छितराई हुई रोशनी के कारण हमें आसमान नीला दिखाई देता हैं।

तो अब सवाल यह भी उठता है कि सूर्य उदय होते समय और सूर्य अस्त होते समय आसमान लाल क्यों दिखाई देता है? 

तो इसका उत्तर ये है कि, सूर्य अस्त और सूर्योदय के दौरान प्रकाश हवा में काफी लंबी यात्रा करने के बाद हमारी आंखों तक पहुंचता है। इसी यात्रा की वजह से प्रकाश का नीला रंग अणुओं से टकराकर काफी हद तक अस्त व्यस्त जाता है। जबकि लाल रंग धीरे धीरे आगे बढ़ता रहता है । यही कारण है कि इस दौरान आसमान हमें लाल या गुलाबी दिखाई देता है।

तो आशा करते हैं कि आज के इस आर्टिकल में आपको आपके सवाल का जवाब मिल गया होगा। और अगर आपको हमारा जवाब पसंद आया हो तो आपकी दोस्तों के साथ भी जरूर शेयर करें। और हमें Instagram और telegram पर जरूर फॉलो करें वहां पर भी हम ऐसे ही मजेदार पोस्ट डालते रहते हैं।
Telegram channel:- click here...

Instagram page:- click here...

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां